ब्लड डोनेट करने में एयरपोर्ट के सफाई कर्मचारियों ने भी बढ़ चढ़ कर भाग लिया।

ब्लड डोनेट करने में एयरपोर्ट के सफाई कर्मचारियों ने भी बढ़ चढ़ कर भाग लिया।

विश्व रक्त दान दिवस के अवसर पर लालबहादुर शास्त्री अंतरराष्ट्रीय बाबतपुर एयरपोर्ट वाराणसी के सीआईएसएफ व एयर इण्डिया के कर्मचारियों सहित एयरपोर्ट ऑथॉरिटी के लोगों ने रक्‍तदान किया। निदेशक अनिल कुमार राय के नेतृत्व में पूरे एयरपोर्ट परिवार सहित ने ब्लड डोनेट किया। वहीं सीआईएसएफ के जवानों ने नुक्‍कड़ नाटक के जरिये एयरपोर्ट आने वाले यात्रियों को रक्‍तदान के लिये जागरूक किया। यही नहीं बल्‍ड डोनेशन में आम यात्रियों ने भी सहभागिता दिखायी।

ब्लड डोनेशन किसी की जिंदगी ही नहीं बचाती बल्‍कि ये सबसे पुण्‍य का कार्य भी है, जिसे हर स्‍वस्‍थ्‍य व्‍यक्‍ति को करना चाहिए।

ब्लड डोनेशन में विस्तारा एयर लाइन्स के लोगों ने सबसे ज्यादा बढ़-चढ़ कर भाग लिया।ब्लड डोनेशन में जिन एयरवेज़ की प्रमुख सहभागिता रही उनमे विस्तारा एयर लाइन्स, जेट एयर वेज़, एयर इण्डिया, इंडिगो, स्पाइस जेट के अधिकारियों एव कर्मचारी बढ़-चढ़ कर हिस्सा लिया। सीआईएसएफ के डिप्टी कमांडेंट सुब्रत कुमार झा ने अपने 42 वर्ष के उम्र में 53वी बार ब्लड डोनेट किया और बताया कि इससे शरीर और मन दोनों स्वस्थ रहता है। सीआईएसएफ के ही संदीप कुमार ने ब्लड डोनेट करते वक्त बताया कि ब्लड डोनेशन किसी की जिंदगी ही नहीं बचाती बल्‍कि ये सबसे पुण्‍य का कार्य भी है, जिसे हर स्‍वस्‍थ्‍य व्‍यक्‍ति को करना चाहिए।

सीआईएसएफ के जवानों ने इस दौरान नुक्‍कड़ नाटक के जरिये एयरपोर्ट आने वाले यात्रियों को भी रक्‍तदान के लिये जागरूक किया। जवानों ने नाटक के माध्‍यम से बताया कि कैसे 60 साल की उम्र तक के लोगों को रक्‍तदान करके ना सिर्फ समाज के प्रति अपने दायित्‍वों को निभाना चाहिये, बल्‍कि खुद को भी स्‍वस्‍थ्‍य रखने के लिये नियमित अंतराल पर रक्‍तदान जरूरी है।

एयरपोर्ट ऑथॉरिटी द्वारा प्रत्येक छह माह पर ब्लड डोनेट किया जाता है, जो केवल आम लोगों के जीवन को बचाने के लिए किया जाता है। यह ब्लड डोनेशन गरीब व असहाय लोगों की मदद के लिए होता है। ब्लड डोनेट करने में प्रमुख भूमिका लाल बहादुर शास्‍त्री अन्‍तरराष्‍ट्रीय एयरपोर्ट के निदेशक अनिल कुमार राय, आप्ता सिंह (प्रबंधक), मुकेश यादव, रामेश्वर गौतम, विवेकानंद मोरिल, नवनीत चौधरी, संतोष चौबे, योगेश भूषण सहित तमाम लोग मौजूद थे। ब्लड संग्रहण का जिम्मा हेरिटेज इंस्टीट्यूट आफ मेडिकल साइंसेज वाराणसी को दिया गया था, जिसकी पूरी टीम ब्‍लड कलेक्‍ट करने में जुटी हुई थी। इसमे डॉ दीप्ती दीक्षित, आशीष सिंह टेक्नीशियन, सत्येंद्र सिंह, वीरेंद्र व पीआरओ अजय राय उपस्थित थे।

Mithilesh Patel

After completing B.Tech from NIET and MBA from Cardiff University, Mithilesh Patel did Journalism and now he writes as an independent journalist.

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.