बनारस के ये पूर्व विधायक बना रहे है पकौड़ा, बोले नहीं मिला रहा कोई काम

बनारस के ये पूर्व विधायक बना रहे है पकौड़ा, बोले नहीं मिला रहा कोई काम

वाराणसी: 2019 का चुनाव जैसे-जैसे नज़दीक आता जा रहा है बनारस का राजनैतिक माहौल गरमाता जा रहा है। जी हाँ हम बात कर रहे है वाराणसी शहर के पूर्व विधायक अजय राय की जो 2014 में प्रधानमंत्री मोदी के खिलाफ वाराणसी से सांसद का चुनाव भी लड़ चुके है कभी खुद से पूर्ण रूप से भाजपाई बताने वाले अजय राय इन दिनों वाराणसी के अस्सी घाट पर पकौड़ा तलते हुए नज़र आये जी हाँ हैरान मत होइए दरअसल वह ये प्रधानमंत्री के पकोड़ा को रोजगार बताने वाले बयान के विरोध में कर रहे है।

भाजपा से भी रह चुके है विधायक

कभी खुद को भाजपाई बताने वाले अजय राय का राजनैतिक इतिहास हमेशा से ही फेर बदल वाला रहा है कभी वह भाजपा का हिस्सा रहे तो कभी उन्होंने समाजवादी पार्टी का दामन थामा फिलहाल वो कांग्रेस पार्टी में है आपको बता दे 2017 विधानसभा चुनावो में कभी उनका गढ़ माना जाना वाला कोलअसला विधानसभा क्षेत्र भी भाजपा के लहर में ढह गया।

मंगलवार को वह प्रधानमंत्री मोदी के नीतियों के विरोध में वाराणसी के चर्चित अस्सी घाट पर पकौड़ा तलते हुए नज़र आये जिसमे उनके साथ जिले के अन्य वरिष्ठ कोंग्रेसी नेता भी दिखे।

पूर्व विधायक ने कहा 2014 चुनाव के पहले मोदीजी ने तो बड़े-बड़े वादे किये थे पर अभी तक उनका एक भी वादा पूरा नहीं हुआ और उन्होंने बनारस की जनता के साथ धोखा किया है उन्होंने कहा की देश में 80 फीसदी युवा बेरोजगार है युवाओ को कोई काम नहीं मिल रहा है, उनके अनुसार 2014 तक यह अकड़ा 42 फीसदी था। बेरोजगारों के लिए कार्य करने के बजाय प्रधानमंत्री मोदी उनके जख्मो पे नमक छिड़क रहे है और उनका मखौल उड़ा रहे है।

अपने द्वारा बनाये गए पकौड़ो को उन्होंने अन्य कोंग्रेसजनो के साथ-साथ घाट पे मौजूद जनता में भी वितरित किया तथा उनसे सरकार के नीतियों पर चर्चा की और खामिया बताई।

Mithilesh Patel

After completing B.Tech from NIET and MBA from Cardiff University, Mithilesh Patel did Journalism and now he writes as an independent journalist.

Leave a Reply

Your email address will not be published.