बनारस पहुंची पहली सियालदह-जम्मूतवी एक्सप्रेस हमसफ़र

बनारस पहुंची पहली सियालदह-जम्मूतवी एक्सप्रेस हमसफ़र

बनारस व पूर्वांचल के लोगों के लिए जम्मूतवी और कोलकाता के लिए नई साप्ताहिक ट्रेन सेवा मिलने जा रही है। काशी से जम्मूतवी या फिर कोलकाता का सफर करने वालों को इस ट्रेन ने यात्रा का नया विकल्प मुहैया कराने के साथ ही सुविधाजनक सफर की भी राह खोली है।

सुविधाओं का नया अहसास

बनारस से होकर गुजरी पहली सियालदह-जम्मूतवी हमसफर एक्सप्रेस ने बुधवार को यात्रियों, पर्यटकों के लिए सुविधाओं का नया अहसास कराया। हरे-पीले रंग में रंगे खूबसूरत एलएचबी कोच, स्वच्छता, पानी और अच्छी कूलिंग के साथ पेंट्रीकार के बेहतरीन इंतजामों ने यात्रियों का मन मोह लिया।

16 वातानुकूलित कोच सुसज्जित

हमसफर एक्सप्रेस दिन में पूर्वाह्न 11:45 बजे कैंट स्टेशन प्लेटफार्म नंबर पांच पर पहुंची। जम्मूतवी से आ रही यह ट्रेन यहां 10 मिनट के ठहराव के बाद 11:55 बजे कोलकाता रवाना हो गई। ट्रेन में कुल 16 वातानुकूलित कोच लगाए गए हैं। पेंट्रीकार भी एसी युक्त है।

बड़े जंक्शन पर होगा ठहराव

स्टेशन मास्टर डीके सिंह और आईआरसीटीसी के विनोद सिंह ने बताया कि वाराणसी से हर माह सैकड़ों यात्री मां वैष्णो देवी धाम जाते हैं। कारोबार के सिलसिले में व्यापारियों की कोलकाता आवाजाही लगी रहती है। इस ट्रेन के संचालन से उन्हें अब खासी सहूलियत हो जाएगी। ट्रेन जम्मूतवी से हर बुधवार को दोपहर 12:30 बजे चलेगी और दूसरे दिन दोपहर 11:30 बजे कैंट स्टेशन पहुंचेगी। सियालदह से प्रत्येक मंगलवार को 1:10 बजे चलेगी जो कैंट स्टेशन पर रात 1:05 बजे आएगी। ट्रेन का जम्मू, लुधियाना जंक्शन, अंबाला कैंट जं., सहारनपुर जं., मुरादाबाद जं., बरेली जं., लखनऊ चारबाग, वाराणसी जं., मुगलसराय जं., गया जं., धनबाद जं., आसनसोल जं. पर ठहराव होगा।

Mithilesh Patel

After completing B.Tech from NIET and MBA from Cardiff University, Mithilesh Patel did Journalism and now he writes as an independent journalist.

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.