डाफी टोल प्लाजा पर अब नहीं लगेगा जाम, वाराणसी एसपी यातायात ने निरीक्षक कर आवश्यक निर्देश दिए

डाफी टोल प्लाजा पर अब नहीं लगेगा जाम, वाराणसी एसपी यातायात ने निरीक्षक कर आवश्यक निर्देश दिए

वाराणसी जनपद के अखरी बाईपास निकट स्थित डाफी टोल प्लाजा पर वाहनों से पथकर वसूलने में देरी होने के कारण टोल प्लाजा के दोनों तरफ जाम की स्थिति बानी रहती है। दोनों तरफ दो दो किलोमीटर लम्बे जाम के कारण आज जनमानस को काफी दिक्कते झेलनी पड़ती है, जिसको संज्ञान में लेते हुए रविवार को एसपी यातायात द्वारा सीओ यातायात व यातायात निरीक्षक राजीव द्रिवेदी संग उक्त स्थल का स्थलीय निरिक्षण कर विलम्ब होने के कारणों को दूर के लिए आवश्यक निर्देश देते हुए कहा की समस्याओं के निवारण हेतु तीस जुलाई तक का समय दिया जा रहा है अगर इस अवधि अंतर्गत व्यस्थाओं में सुधार न हुआ तो आम जनमानस में रोष की स्थिति को देखते हुए नियमानुसार विधिक कार्यवाही प्रारम्भ कर दिया जायेगा। स्थलीय निरिक्षण दौरान डाफी टोल प्लाजा मैनेजर अवनीश बेहरा सहित डिप्टी मैनेजर अभिषेक सिंह मौके पर उपस्थित थे।

डिवाइडर कई जगह टूट गये हैं, जिससे वाहन गलत लेन में जाकर यातायात जाम करते है

टोल प्लाजा मैनेजर ने बताया की विश्व सुन्दरी पुल की तरफ से आने वाले वाहनों हेतु बने लेन में डिवाइडर कई जगह टूट गये हैं, जिससे वाहन गलत लेन में जाकर यातायात को प्रभावित करते है और जाम की स्थिति उत्पन्न हो जाती है। साथ ही उन्होंने पथकर वसूली हेतु बनायी गयी व्यवस्था में निम्नलिखित कमियाॅं बताई जिसके कारण बिलम्ब होता है।

– वाहनों को अपने लेन में चलाने के निमित्त यातायात व्यवस्था हेतु टोल प्लाजा पर कोई कर्मी मौजूद नहीं रहते हैं। मात्र टोल प्लाजा के पास ही उनके गनमैन मौजूद रहते हैं।

– टोल प्लाजा के अन्दर टोल बूथ में बैठने की कुर्सी बहुत नीची है, जिससे भारी वाहनों से पथकर लेते समय टोल कर्मी को उठना-बैठना पड़ता है।

– प्रत्येक टोल बूथ पर एक वाहन से पथकर वसूली में औसतन 50 सेकेण्ड से 01 मिनट का समय लग रहा है, जबकि उक्त मार्ग से लगभग 20,000 वाहन प्रतिदिन आवागमन करते हैं।

– एम्बुलेंस व हल्के वाहनों के आवागमन हेतु अखरी की तरफ से पृथक लेन बना है, परन्तु विश्वसुन्दरी पुल की तरफ से कोई पृथक लेन नहीं बना है।

– टोल प्लाजा पर उद्घोषणा (एलाउन्समेन्ट) के लिए कोई पब्लिक एडेªस सिस्टम (पी0ए0 सिस्टम) मौजूद नहीं है, जिससे वाहनों को लेन में रहने की हिदायत की जा सके।

– पथकर वसूली के दरों का मात्र एक बोर्ड लगा है, जिसके कारण लोग टोल बूथ पर पहुॅंचकर ही दर पूछते हैं।

उक्त समस्याओं के कारण प्रतिदिन टोल बूथ के दोनों तरफ 02-02 कि0मी0 लम्बा जाम लगा रहता है। एम्बुलेंस व मरीज वाहन भी उसी जाम में फंसे रहते हैं। उपरोक्त समस्याओं के समाधान हेतु श्री संजय कुमार महाप्रबन्धक, सोमा रेडिज को निम्नलिखित व्यवस्थाएं किये जाने हेतु पत्र लिखा गया है जिसमे उनसे डिवाइर में टूट-फूट को तत्काल ठीक करवाने के लिए, टोल टैक्स लेने वाले टोलकर्मियों की कुर्सी को ऊॅंचा कर दिया जाये, वाहनों को अपनी लेन में रखे जाने हेतु 03 शिफ्ट में 10-10 वालिटिंयर्स पृथक से लगाये जायें, प्रत्येक टोल बूथ पर 01 टोल कर्मी के स्थान पर 02-02 टोल कर्मी रखे जायें, जिसमें से 01 टोल कर्मी वाहन चालकों से धनराशि ले तथा दूसरा कर्मी वाहनों का नम्बर स्कैन कर अपलोड करें, जिससे औसत समय 50 सेकेण्ड से घटकर 25 सेकेण्ड लगाया जा सके, यात्रियों के सूचनार्थ डिजिटल साइनेज लगाये जायें, जिससे भुगतान के अन्य माध्यमों के सम्बन्ध में भी जानकारी प्रदर्शित हो सके, विश्वसुन्दरी पुल की तरफ से आने के लिए 01 लेन 06 फिट की बनी है, जिससे मात्र आटो रिक्शा निकल सकते हैं, उस लेन को बढ़ाकर 09 फिट कर दिया जाय, जिससे एम्बुलेंस व हल्के वाहन पथकर देकर बाधा रहित निकलते रहें।

Mithilesh Patel

After completing B.Tech from NIET and MBA from Cardiff University, Mithilesh Patel did Journalism and now he writes as an independent journalist.

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.