दंगाइयों ने कानपुर में बिगाड़ा माहौल, पत्थरबाजी और बमबाजी से रणक्षेत्र में बदली कानपुर की सड़कें

दंगाइयों ने कानपुर में बिगाड़ा माहौल, पत्थरबाजी और बमबाजी से रणक्षेत्र में बदली कानपुर की सड़कें

कानपुर में शुक्रवार को दो समुदायों के बीच जमकर बवाल हो गया। बवाल इतना भड़क गया कि ये हिंसा दंगे में तब्दील हो गई। शुक्रवार को ही राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री का कार्यक्रम भी सुनिश्चित था। फिर उसके बाद इस प्रकार की हिंसा का होना कहीं न कहीं पुलिस प्रशासन की नाकामी की तस्वीर बयां कर रहा है।

दरअसल भाजपा नेता नूपुर शर्मा के द्वारा पैगंबर मोहम्मद को लेकर दिए गए कथित विवादित बयान के बाद कानपुर में मुस्लिम बाहुल्य क्षेत्र में कारोबार पूरी तरह बंद था। जोहर फैंस एसोसिएशन और अन्य मुस्लिम तंजीमों ने शुक्रवार को मुस्लिम समुदाय से कारोबार बंद रखने की अपील की थी।

बताया जा रहा है कि जुमे की नमाज के दौरान ज्यादातर मस्जिदों में हुई तकरीरों में कहा गया कि वे मोहम्मद साहब पर की गई किसी भी अमर्यादित टिप्पणी को बर्दाश्त नहीं करेंगे। मौजूदा हालात को देखते हुए पुलिस ने किसी भी क्षेत्र में लोगों को नमाज के बाद प्रदर्शन की अनुमति नहीं दी थी। मगर इसके बावजूद बड़ी संख्या में लोग सड़कों पर निकल आए और देखते ही देखते हिंसा दंगे में तब्दील हो गई।

फिलहाल इस मामले में पुलिस ने दर्जनों की संख्या में दंगाइयों को गिरफ्तार किया है और हजारों अज्ञात पर मुकदमा दर्ज किया गया है। मगर इस दंगे का मास्टर माइंड बताये जा रहे जफर हयात अभी पुलिस की पकड़ से बाहर है।

इस पूरे मामले में सीएम योगी की पैनी नजर बनी हुई है और उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिया है कि दंगाइयों से सख्ती से निपटे। उन्होंने कहा कि शांति व्यवस्था में दखल पैदा होने पर हर स्तर पर जिम्मेदारी तय होगी।

Click Here To Download – Magazine(PDF): News Bucket Magazine

Join Our WhatsApp Group: Click Here

न्यूज़ बकेट हिंदी मासिक पत्रिका एवं यूट्यूब पर विज्ञापन और अपने पते पर मैगज़ीन प्राप्त करने के लिए 9807505429, 8924881010, 9839515068 पर संपर्क करें।

Vikas Srivastava

Leave a Reply

Your email address will not be published.