पेश हुआ यूपी का बजट ये रही महत्वपूर्ण बाते, बुंदेलखंड को दी गयी ख़ास तवज्जो

पेश हुआ यूपी का बजट ये रही महत्वपूर्ण बाते, बुंदेलखंड को दी गयी ख़ास तवज्जो

उत्तर प्रदेश: योगी सरकार द्वारा आज यूपी का बजट पेश कर दिया गया, यह बजट चार लाख करोड़ रुपये से अधिक का है, बजट का अनुमोदन विधानभवन में कैबिनेट बैठक के बाद मिला इसके अलावा अन्य सात प्रस्तावों को मंजूरी मिली।

योगी आदित्यनाथ का यह बजट अब तक का सबसे बड़ा बजट है जो की उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा पेश किया गया है। वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल ने पिछला बजट 384 लाख करोड़ रुपए का पेश किया था, वित्त वर्ष 2018-19 के लिए योगी सरकार करीब सवा चार लाख करोड़ रुपये का बजट पेश किया है। इस बार योगी आदित्यनाथ सरकार किसान व युवाओं को लुभाने के प्रयास में है और साथ ही सूबे के बुंदेलखंड क्षेत्र को भी विशेष तवज्जो दी गयी है। वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल ने कल अपने बजट भाषण को अंतिम रूप दिया।

बुंदेलखंड को मिली ख़ास तवज्जो

सरकार द्वारा 4 लाख 28 हजार 384 करोड़ 52 लाख रुपये का बजट पेश किया गया गया जिसमे बुंदेलखंड क्षेत्र को ख़ास तवज्जो दी गयी है और प्रदेश सरकार ने बुंदेलखंड के विकास क लिए 650 करोड़ का इंतज़ाम किया गया है, इस वित्त वर्ष में 5 हजार तालाब खुदवाएगी जिससे बुंदेलखंड में होने वाले पानी के संकट को रोका जा सके।

यह है बजट की मुख्य बाते

1: यूपी सरकार ने पशु स्वास्थ पे भी विशेष जोर दिया है और पशु स्वास्थ के लिए 100 करोड़ की राशि आवंटित की है।

2: किसानो के लिए 100 करोड़ उवर्रक के अग्रिम भंडारण और किसानों को कम ब्याज दर पर फसली ऋण उपलब्ध कराने हेतु सब्सिडी योजना के तहत 200 करोड़ रुपये की व्यवस्था की गयी है।

3: प्रदेश में मेट्रो परियोजनाओं को गति देने के लिए बजट में 500 करोड़ प्रावधान किया है। इसके अलावा सड़क बनाने के लिए 11 हज़ार 343 करोड़, पुल के लिए 1,817 करोड़ जारी किए गए हैं।

4: बजट में कक्षा 1 से लेकर 8वीं तक की शिक्षा मुफ्त करने, मुफ्त किताबों के लिए 76 करोड़ रुपये, माध्यमिक शिक्षा कल्याण के लिए 480 करोड़ रुपये, उच्चतर शिक्षा अभियान के लिए 176 करोड़ रुपये, कक्षा 1 से लेकर 8 तक के बच्चों के यूनिफॉर्म के लिए 40 करोड़ रुपये और मिड डे मील के लिए 2 हजार 48 करोड़ रुपये बजट में आवंटित किए गए हैं।

5: स्मार्ट सिटी योजना को तेजी देने का फैसला किया है। इसके तहत लखनऊ, कानपुर, आगरा, वाराणसी, इलाहाबाद, अलीगढ़, झाँसी, मुरादाबाद, बरेली तथा सहारनपुर के लिए स्मार्ट सिटी मिशन योजना के अन्तर्गत 1 हजार 650 करोड़ रुपये की व्यवस्था प्रस्तावित की गई है।

6: बजट में प्रधानमंत्री मातृ वन्दना योजना के लिये 291 करोड़ रुपये की व्यवस्था की गई है।

7: युवाओ को रोजगार देने के लिए 250 करोड़ के स्टार्टअप फण्ड, दीन दयाल ग्रामोद्योग योजना के लिए 10 करोड़, खादी मार्केटिंग के लिए 20 करोड़ का प्रावधान किया गया है।

Mithilesh Patel

After completing B.Tech from NIET and MBA from Cardiff University, Mithilesh Patel did Journalism and now he writes as an independent journalist.

Leave a Reply

Your email address will not be published.