मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी का प्रतापगढ़ दौरा, बढ़ाएगा राजा भैया से नजदीकियां या दूरिया

मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी का प्रतापगढ़ दौरा, बढ़ाएगा राजा भैया से नजदीकियां या दूरिया

मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी का आज बाहुबली राजा भैया के प्रतापगढ़ का दौरा है। प्रतापगढ़ में पुरे चार घंटे रहेंगे जहा पर कानून व्यवस्था की समीक्षा के बैठक संग विकास कार्यो का भी निरिक्षण करेंगे। मजेदार बात यह है की सीएम योगी बसपा को तगड़ा झटका देते हुए दयाराम सरोज जो की एक दलित है उसके आवास पर रात के भोजन करेंगे। राजनीतिक रूप से देखा जाये तो ये दौरा बहुत ही एहमियत रखता है। सीएम योगी का कार्यक्रम बेहद व्यस्त रहेगा व् मुख्य कार्यक्रम सदर विधानसभा में होगा। प्रतापगढ़ में सीएम योगी का जाना कई संदेश देने वाला है। सीएम की अगवानी की जिम्मेदारी अपना दल के विधायक संगमलाल गुप्ता पर रहेगा।

राजनैतिक पक्षों की माने तो ये बाहुबली राजा भैया और भाजपा की बढ़ती नजदीकियों को देखते हुए इस दौरा का आयोजन किया गया है।

बाहुबली क्षत्रिय नेता राजा भैया और मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी की नजदीकी किसी से छिपी नहीं है। राज्यसभा चुनाव में राजा भैया पर क्रॉस वोटिंग का आरोप लग चूका है जिसमे राजा भैया ने बीजेपी प्रत्याशी के पक्ष में मतदान किया गया था। इस बात को लेकर सियासी माहोल काफी गरम था जिसके चलते सपा प्रमुख अखिलेश यादव व् बसपा सुप्रीम मायावती ने भी राजा भैया को गद्दार तक बोल दिया था। सीएम दौरे से ज्यादा चर्चित राजा भैया का वहा मौजूद होने पर। उम्मीदें ज्यादा राजा भैया के न रहने का जताया जा है। सीएम योगी का राजा भैया के विधानसभा में न जाना राजा भैया का अधिक सक्रिय ने दिखने का कारण बताया जा रह है। बात जो भी हो फ़िलहाल मुख्यमंत्री का कार्यक्रम बहुत असरदार होने की आशंका जताई जा रही है। विकास की दौड़ में प्रतापगढ़ काफी पीछे चल रहा है,कानून व्ययवस्था को दीमक चाट गयी है ऐसे में देखना है की सीएम का दौरा क्या रंग लाता है।

क्या अन्य जिले की तरह प्रतापगढ़ में भी केवल अधिकारियो को चेतावनी व् कागची जांच या भूतल पे चल रहा कार्यो का कोई समीक्षा नहीं या बस समीक्षा की जाएगी कोई कार्यवाही या विकास नहीं होगा।

सीएम योगी के आगमन को लेकर राजा भैया पर सबकी निगाहे लग गयी है। कार्यक्रम के दौरान राजा भैया मौजूद रहेंगे कि नहीं। इस पर चर्चा शुरू हो गयी है। इस बात की अधिक संभावना है कि सीएम योगी के पूरे कार्यक्रम से राजा भैया ने दूरी बनायी हुई है। राजा भैया के विधानसभा में सीएम योगी नहीं जा रहे हैं इसलिए भी राजा भैया अधिक सक्रियता नहीं दिखायेंगे। फिलहाल सीएम योगी के इस कार्यक्रम का असर बहुत होगा। आमतौर पर विकास की दौड़ में प्रतापगढ़ पिछड़ चुका है और यहां पर कानून व्यवस्था की स्थिति भी बहुत खराब है ऐसे में देखना है कि समीक्षा बैठक के बाद सीएम योगी कार्रवाई करेंगे। या फिर अन्य जिलों की तरह यहां भी अधिकारियों को चेतावनी ही मिलेगी।

Mithilesh Patel

After completing B.Tech from NIET and MBA from Cardiff University, Mithilesh Patel did Journalism and now he writes as an independent journalist.

Leave a Reply

Your email address will not be published.