वाराणसी में सफल हुआ समर कैंप का आयोजन, जानिए क्या-क्या था कार्यक्रम में

वाराणसी में सफल हुआ समर कैंप का आयोजन, जानिए क्या-क्या था कार्यक्रम में

वाराणसी पुलिस द्वारा दस दिवसीय समर कैंप का आयोजन किया गया था। कार्यक्रम के समापन समारोह के अतिथि उत्तर प्रदेश पुलिस विभाग के मुखिया डीजीपी ओपी सिंह ने बच्चो को सम्बोधित करते हुए कहा की समर कम्प के माध्यम से बच्चों के चौतरफा विकास में सहायक होता है व उनके बौद्धिक विकास में लाभदायिक सिद्ध होते है।

डीजीपी ने अपर पुलिस निदेशक वाराणसी जोन, पुलिस महानिरीक्षक वाराणसी परिक्षेत्र व वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक वाराणसी को समर कैंप के सफल आयोजन पर बधाई दी व इस प्रकार के कार्यक्रम को अन्य जनपदों में भी करवाने की इक्छा प्रकट की।पुलिस अधीक्षक ग्रामीण द्वारा बच्चो से समर कैंप में सीखी गयी बातो के सम्बन्ध में पूछे गए प्रश्नों का उत्तर बच्चो ने बखूबी दिए व बोले की अभी तक हम लोग पुलिस से डरते थे पर अब हम लोग ने पुलिस को एक दोस्त व साथी के रूप में स्वीकार किया है। डीजीपी द्वारा बच्चों को अनुभव पत्र भी वितरण किया। बच्चो के अभिवावको ने भी खुशी जाहिर करते हुए बताया की यह समर कैम्प पुलिस व पब्लिक के बीच अपनी छवि को सुधारने में एक रीड़ की हड्डी साबित होगा।

ध्यातव्य हो की वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने 20 अप्रैल को दस दिवसीय समर कैंप का आयोजन किया था जिसमे विभिन स्कूल के 80 बच्चो ने भाग लिया था जिनको चार ग्रुप- अल्फा, बीटा, टैन्गों, चार्ली में विभाजित किया गया। समर कैम्प के दौरान बच्चो को यातायात नियमों का पालन करना एवं यातायात संकेतों की जानकारी दी गयी, बच्चों को फायरिंग बट पर ले जाकर फायरिंग करना तथा उपद्रवियों को टीयर गैस व रबर बुलेट द्वारा फायरिंग करके भीड़ को तितर-बितर कराना सिखाया गया, बच्चो को सारनाथ थाना ले जाकर एफ0आई0आर पंजीकृत करना बताया गया, जिले में गठित स्वाट टीम की कार्यप्रणाली से अवगत कराया गया, बच्चों को केन्द्रीय कारागार वाराणसी का भ्रमण कराया गया।

माननीय राज्यपाल उ0प्र0 द्वारा समर कैम्प में सम्मिलित होकर दोहों के माध्यम से बच्चों को प्रेरित करते हुए उनका उत्सावर्धन किया तथा वाराणसी पुलिस के इस प्रयास की प्रशंसा की। समर कैम्प के दौरान पद्मविभूषण श्री छन्नुलाल महाराज, गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड में नाम दर्ज करने वाली नृत्यांगना श्रीमति सोनी चौरसिया व राष्ट्रमंडल खेल में स्वर्ण पदक विजेता पूनम यादव ने भी सम्मिलित होकर बच्चों का उत्सावर्धन किया गया।

Mithilesh Patel

After completing B.Tech from NIET and MBA from Cardiff University, Mithilesh Patel did Journalism and now he writes as an independent journalist.

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.